नहीं करने होंगे बड़े-बड़े उपाय, सूर्य को जल देने से दूर होंगी कई परेशानियां…

0
4

ज्योतिष शास्त्र के मुताबिक सूर्य देव को अर्घ्य देने के समय को अरुणोदय काल कहा जाता है. इस पर विस्तृत जानकारी देते हुए कामेश्वर सिंह दरभंगा संस्कृत विश्वविद्यालय के स्नातकोत्तर ज्योतिष विभाग के विभागाध्यक्ष डॉ कुणाल कुमार झा बताते हैं कि सूर्य उपासना करने के लिए तीन तरह की संध्या का वंदन किया जाता है.

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें